घनश्याम महतो हत्याकांड: श्राद्धकर्म में भी नहीं खुला घर का दरवाजा

ताजा खबरें

रिपोर्ट :विनोद विरोधी

बाराचट्टी (गया)। बीते 9 अक्टूबर 2020 की शाम अदलपुर के रहने वाले 72 वर्षीय घनश्याम महतो की हत्या के मामले में बाराचट्टी पुलिस द्वारा घर का दरवाजा बंद कर दिए जाने के कारण श्राद्ध कर्म में भी नहीं खोला गया। मृतक दंपति का की बेटी व दामाद ने खुले आसमान के नीचे श्राद्ध कर्म संपन्न कराया ।इस बाबत पूछे जाने पर बाराचट्टी थानाध्यक्ष अशोक कुमार सिंह ने बताया कि हत्या के कारणों को तहकीकात के मद्देनजर मृतक दंपति के घर में ताला बंद कर दिया गया है ।वहीं बिना न्यायालय के आदेश के ताला नहीं खोला जा सकता है। गौरतलब है कि वृद्ध घनश्याम महतो की हत्या उसके ही सौतेले पोते ने जमीन विवाद को लेकर गला रेत कर हत्या कर दी थी तथा मृतक की पत्नी को ही पेट में छुरा भोंक दिया था जिसकी मौत भी इलाज के दौरान घटना के दूसरे दिन हो गई। मृतक की पत्नी खगिया देवी के फर्द बयान पर पोते योगेंद्र प्रसाद के खिलाफ बाराचट्टी थाना में मामला दर्ज किया गया है ।फिलवक्त पोता योगेंद्र कुमार जेल की सलाखों में है ।आज मृतक दंपति की बेटी मंजू देवी व दामाद चेत नारायण प्रसाद खुले आसमान के नीचे श्राद्धकर्म कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *