छात्रों ने 5 बजे, 5 मिनट थाली बजाई तो पीयूष गोयल को रेलवे परीक्षाओं का ऐलान करना पड़ गया

Neeraj Kumar 957 0 05 September 2020

खगड़िया : 5 सितंबर को शिक्षक दिवस होता है. लेकिन शिक्षकों के छात्र आज क्या कर रहे हैं? ताली-थाली पीट रहे हैं. क्यों? एक अदद नौकरी के लिए. वो ‘समय पर’ प्रतियोगी परीक्षाएं कराने और उनके नतीजों की मांग कर रहे हैं. पिछले कई दिनों से केंद्र सरकार को छात्रों की तरफ से संदेश दिए जा रहे हैं. सांकेतिक विरोध दर्ज किया जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कई यूट्यूब वीडियो में डिसलाइक की भरमार से लेकर उन्हीं के दिए ताली-थाली वाले आइडिया तक. ये सब हो रहा है ताकि छिटपुट आवाज़ें इकट्ठा होकर सरकारी कानों पर गिरें. इंटरनेट के दौर में ये आवाज़ें हैशटैग बनकर आगे बढ़ रही हैं. शोर ट्रेंड कर रहा है और असर भी कर रहा है. इतना कि सरकार को रेलवे परीक्षाओं का ऐलान करना पड़ गया.

5 सितंबर को सोशल मीडिया ऐसे तमाम वीडियो और पोस्ट से भरा रहा, जिनमें SSC, रेलवे, बैंक के परीक्षार्थियों ने शाम 5 बजे, 5 मिनट के लिए थाली पीटी. कई जगह वो सड़कों पर भी उतरे. पूरा दिन #5Baje5Min, #5Sep5Min, #5बजे5मिनट, #RRBExamDate जैसे हैशटैग ट्रेंड करते रहे. वैसे, इन सबके ऊपर #HappyTeachersDay भी ट्रेंड कर रहा था.
पीयूष गोयल की तरफ से रेलवे परीक्षाओं का ऐलान
रेलवे की परीक्षाओं को लेकर जो ट्रेंड चला, उसका असर भी शाम तक दिखने लगा. शाम 6 बजे के करीब केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के ट्विटर अकांउट से जानकारी दी गई कि परीक्षाएं 15 दिसंबर से होंगी. ट्वीट में वीडियो के साथ लिखा गया.
रेलवे की परीक्षाएं
रेलवे की NTPC यानी नॉन टेक्निकल पॉपुलर कैटगरीज में फरवरी, 2019 में 35,308 पोस्ट की वैकेंसी निकली थी. एक करोड़ से ज़्यादा आवेदन आए. जून-सितंबर 2019 के बीच इसकी परीक्षा होनी थी लेकिन अब 2020 का सितंबर आ गया और परीक्षा नहीं हुई. ऐसे ही रेलवे की ग्रुप डी की परीक्षा भी लटकी हुई है. अब इनका ऐलान किया गया है, जिसे छात्रों की जीत माना जा रहा है.


लोगो की प्रतिक्रिया

No any comment posted yet..

अपनी प्रतिक्रिया दे