जिंगुरा जलछाजन परियोजना का नाबार्ड के महाप्रबंधक ने किया निरीक्षण, किसानों के साथ की बैठक

ताजा खबरें

 

रिपोर्ट :विनोद विरोधी

बाराचट्टी (गया)। राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक पटना के (जीएम) महाप्रबंधक यश पाँल अग्रवाल ने मंगलवार को बाराचट्टी प्रखंड के जिंगुरा जलछाजन समिति के द्वारा कराये गये जलवायु परिवर्तन कार्यक्रम के तहत बनाये गये संरचनाओं व अन्य गतिविधियों समेत कुम्भी गांव मे नाबार्ड के द्वारा बनाये गये नाला बांध का निरीक्षण किया. इसके साथ ही बेला व लाट गांव मे बागवानी, नर्सरी, डेमो साईट, ड्रीप, स्प्रीकलर, वर्मीकम्पोस्ट, आहर गहरी करण समेत नाबार्ड के तहत बनाये गये सभी संरचनाओं का निरीक्षण किया। इसके बाद जिंगुरा एफपीओ के कार्यालय मे किसानों व जलछाजन कमिटी के सदस्यों के साथ बैठक भी किया। बैठक मे महुअरी गांव के किसान रामचन्द्र यादव ने नाबार्ड के जीएम को नाबार्ड के द्वारा कराये गये सभी गतिविधियों के बारे मे विस्तार पूर्वक जानकारी दिया।

इसके अलावे नाबार्ड के महाप्रबंधक ने सोमवार को खिजरसराय प्रखंड के महकार व धनसिंगरा जलछाजन परियोजना के द्वारा कराये गये चेकडैम व तालाब का निरीक्षण भी किया एवं करपी उच्च विद्यालय मे जलछाजन समिति व महकार एफपीओ के किसानों के साथ बैठक किया गया। बैठक को संबोधित करते हुए महाप्रबंधक ने कहा कि किसानों व कमिटी के द्वारा बेहतर कार्य किया गया। उन्होंने जलछाजन कमिटी के सदस्यों को कहा कि समय से कार्य को पूरा करें। वहीं संस्था मगध विकास भारती के सोभ स्थित कार्यालय का भी भ्रमण किया। इस कार्यक्रम मे मौजूद प्रमुख लोगों मे नाबार्ड के जिला विकास प्रबंधक उदय कुमार, मगध विकास भारती के मंत्री शिवनंदन प्रसाद, परियोजना अभियंता महेश प्रसाद, ब्रजेश सिंह, सुरेंद्र कुमार, जिंगुरा जलछाजन समिति के अध्यक्ष उमेश यादव, कोषाध्यक्ष कृष्णदेव यादव, राजकुमार यादव, शांति देवी, धनसिंगरा से मधेश्वर कुमार, पंकज कुमार, कांती देवी, महकार से अमित कुमार, कामदेव कुमार, महकार एफपीओ के सीओ संगीता सिन्हा समेत सैकड़ों किसान मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *