अफीम की खेती की सूचना विभागीय अधिकारियों को नहीं मिली तो अधिकारी भी होंगे दंडित

ताजा खबरें

रिपोर्ट : विनोद विरोधी

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के अधीक्षक राजन कुमार ने दिए अधिकारियों की चेतावनी

बाराचट्टी( गया)। स्थानीय प्रखंड मुख्यालय स्थित मनरेगा भवन में आयोजित बैठक में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के अधीक्षक राजन कुमार ने कहा कि जिले में बड़े पैमाने पर अफीम की खेती हो रही है ,इस पर अंकुश लगाना निहायत जरूरी है। उन्होंने अधिकारियों को आगाह करते हुए कहा कि यदि अफीम की खेती की सूचना रहते हुए विभागीय अधिकारी इस पर अंकुश नहीं लगा पाए और संबंधित वरीय पदाधिकारी को सूचना नहीं दी गई तो वे भी दंडित के भागीदार होंगे। उन्होंने जिले में हो रहे अवैध रूप से अफीम की खेती पर अंकुश लगाने के लिए अधिकारियों के बीच उत्तरदायित्व भी सौंपी गई और समय सीमा का भी निर्धारण किया गया। बैठक में मौजूद नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो पटना के निरीक्षक आशुतोष कुमार ने कहा कि अफीम की अवैध खेती करना कानूनी अपराध है तथा कम से कम 10 साल तक सश्रम कारावास एवं एक लाख तक जुर्माने का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि उत्पादन की खरीद बिक्री, आयात ,अंतर राज्य पर कम से कम 6 माह एवं अधिकतम 20 वर्ष के सश्रम कारावास एवं दो लाख तक के जुर्माने का प्रावधान है। उन्होंने यह भी कहा कि अफीम की खेती यदि आपके क्षेत्र अथवा जमीन पर हो रही हो तो एनडीपीएस एक्ट की धारा 46 के अंतर्गत जमीन के मालिक का कर्तव्य है कि संबंधित थाना प्रभारी, आबकारी अधिकारी ,प्रखंड अथवा अंचल अधिकारी एवं नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो को यथाशीघ्र इसकी सूचना दें अन्यथा कानून के अनुरूप आप भी सजा के हकदार होंगे ।उन्होंने यह भी कहा कि जिस भी किसी ग्राम में अफीम की खेती होती है तो एनडीपीएस एक्ट की धारा 47 के तहत संबंधित गांव के मुखिया, सरपंच, ब्लॉक सदस्य का संवैधानिक कर्तव्य है कि वे अफीम की अवैध खेती के संबंध में उपरोक्त पदाधिकारियों को जानकारी दें अन्यथा दंड के भागीदार होंगे ।बाराचट्टी प्रखंड मुख्यालय स्थित मनरेगा भवन में आयोजित संबंधित अधिकारियों में अवर निरीक्षक प्रवीण कुमार के अलावे सीआरपीएफ 159 बटालियन के समादेष्ठा, नारकोटिक्स विभाग के नोडल पदाधिकारी ,अनुमंडल पदाधिकारी शेरघाटी उपेंद्र पंडित, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी प्रमोद भारती ,जिला कृषि पदाधिकारी गया ,अंचल अधिकारी कैलाश महतो, प्रखंड विकास पदाधिकारी मनोज कुमार श्रीवास्तव, वनों के क्षेत्र पदाधिकारी ,बाराचट्टी थाना अध्यक्ष मनोज कुमार समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *