बढ़ते प्रदूषण और करोना के खतरे को लेकर कई राज्यों में पटाखे पर लगाया गया बैन

राष्ट्रीय

नई दिल्ली : देश में कई राज्यों में पटाखे पर बैन लगा दिया गया है. यह फैसला बढ़ते प्रदूषण औ करोना के खतरे को देखते हुए लिया गया है. जिन राज्यों ने यह फैसला लिया है उनमें दिल्ली, हरियाणा, पश्चिम बंगाल और राजस्थान ,ओडिशा सरकार और सिक्किम शामिल है. मध्यप्रदेश में विदेशी पटाखों की बिक्री पर बैन लगा है. नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने पहले चार राज्यों से पटाखा पर बैन लगाने को लेकर जवाब मांगा था लेकिन मौजूदा स्थिति को ध्यान में रखते हुए 14 और राज्यों को इसमें शामिल किया है और उन्हें नोटिस भेजा है. एनजीटी की नोटिस का जवाब आने के बाद इस पर फैसला होगा. सिक्किम सरकार ने मुख्य सचिव एस. सी. गुप्ता ने आपदा प्रबंधन कानून, 2005 के प्रावधानों के तहत आदेश जारी कर अगले आदेश तक राज्य में पटाखे फोड़ने पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया. राज्य में संक्रमित लोगों की संख्या में कमी आई है और काफी संख्या में रोगी इस बीमारी से उबर चुके हैं, लेकिन पटाखे चलाने के कारण वायु प्रदूषण बढ़ना संक्रमित लोगों के साथ ही ठीक हो चुके लोगों के लिए भी खतरनाक साबित होगा.ट्रिब्यूनल ने वरिष्ठ अधिवक्ता राज पंजवानी और शिवानी घोष को इस मामले में सहयोग के लिए न्याय मित्र के तौर पर नियुक्त किया है. दिल्ली एनसीआर में वायु की गुणवत्ता खराब हो चुकी है. बढ़ता प्रदूषण कोरोना महामारी के संकट को और बढ़ा सकता है. इससे बचने के लिए इंडियन सोशल रेस्पांसिबिलिटी नेटवर्क ने एनजीटी के समक्ष याचिका देकर एनसीआर में पटाखों पर प्रतिबंध के लिए कदम उठाने की अपील की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *