चुनाव की तिथियों की घोषणा होते ही पंचायतों पर बढ़ी सरगर्मी

ताजा खबरें राजनीति

रिपोर्ट :विनोद विरोधी

बाराचट्टी गया।चुनाव की तिथियों की घोषणा होते ही बाराचट्टी प्रखंड के पंचायतों में चुनावी सरगर्मी बढ़ गई है। गांव देहातो के बैठकों,चौक – चौपाल एवं गली चौराहों पर चुनावी चर्चा जोर पकड़ने लगी है।
अपने निर्धारित अबधि से छह माह बिलम्ब बाद मंगलवार को बिहार सरकार के कैबिनेट की बैठक में पंचायत चुनाव कुल 11 चरणों में आगामी 24 सितंबर 21 से करवाने का निर्णय लिया है। चुनावी तिथियों के प्रकाशन के ग्रामीण क्षेत्रों में हलचल बढ़ गई है। विभिन्न पदों पर प्रत्याशी बनने के इक्छुक व्यक्ति गांव व समाज में अपनी पकड़ मजबूत करने को ले सुबह शाम क्षेत्र का दौरा करने लगे हैं। जनसंपर्क अभियान चलाकर संबंधित पद के उम्मीदवार अपना जनाधार को मजबूत बताते हुए वोट मांगने का काम शुरू कर दिया है।
हालांकि प्रखंड के प्रायः सभी पंचायतो के छोटे बड़े सभी गांव का कोई न कोई प्रत्याशी चुनाव मैदान में खड़े होने को कमर कस चुके हैं।
जो व्यक्ति कभी अनुसूचित टोले में जाना उचित नहीं समझते थे, वे चुनाव लड़ने की मंशा लेकर टूटे फूटे झोपड़ियों में जा जाकर अपनी दावेदारी से अबगत करवा रहे हैं। कुछ प्रतिनिधि पुनः प्रत्याशी बनकर जीत सुनिश्चित करने को ले गांव के युवाओ को अभी से ही मीट मुर्गा की पार्टी शुरू कर दिया है। जबकि कुछेक प्रत्याशी लोगों के बीच लोकप्रियता हासिल करने को ले गांव देहातो में नाली – गली आदि की साफ सफाई से लेकर पंचायत स्तर के रचनात्मक कार्यो को करने के लिए शिद्दत से लगे हैं। हालांकि यह अभी घोषित नहीं हुआ है कि बाराचट्टी प्रखंड में पंचायत चुनाव किस चरण में होना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *