खगड़िया: मेला दिखाने के बहाने से 7 वर्षीय नाबालिग की मंदिर में 45 वर्षीय अधेड़ से करायी शादी

ताजा खबरें

श्रवण आकाश, खगड़िया

खगड़िया : बिहार के खगड़िया में एक दिल दहलाने वाली ऐसी खबर आ रही है जो कि बेहद शर्मनाक है। मामला जिले के परबत्ता प्रखण्ड अंतर्गत खजरैठा पंचायत के नोनियांचक मथुरापुर का है जहां एक 7 वर्षीय मासूम की शिवरात्रि मेला दिखाने के बहाने ले गए मंदिर में एक 45 वर्षीय अधेर से शादी करा दी गई। मासूम बच्ची की शादी चंद पैसे की लोभ में बहला फुसलाकर की गयी। इस शर्मनाक ने भारत सरकार के द्वारा दहेज प्रथा कानून की सीधे धज्जियां उड़ाई गयी। आवेदन के अनुसार मामला बीते 13 मार्च 2021 की है आवेदन में परिजनों सह ग्रामीणों का कहना है कि कन्हैयाचक गाँव निवासी रामबिलास मिश्र के सुपुत्र सुशील मिश्र जिनकी उम्र 45 वर्ष की शादी कराने में लड़के के छोटे भाई की पत्नी खुशबू कुमारी की भूमिका अहम रूप से है। इतना ही नहीं खुशबू कुमारी की शादी पिछले पांच वर्ष पूर्व ही कन्हैयाचक में हुई थी, जिसमें पति के बड़े भाई व भैसुर सुशील मिश्र की पत्नी की किसी कारणवश देहांत हो गई थी, जिसके बाद लड़के के छोटी भाई की पत्नी खुशबू कुमारी ने अपने ही मायके की मासूम व नाबालिग लड़की को बहला फुसलाकर शादी कराने की प्रयास में लग गई । जहाँ मेला दिखाने के बहाने अपने ससुराल कन्हैयाचक के ही ठाकुरवाड़ी मंदिर में जबरन शादी 10 मिनट के अंदर करा दिया जिसमें मासूम बच्ची को रोते देख पंडित ने भी शादी का विरोध किया लेकिन पंडित जी भी नाकामयाब रहे। वहीं जब जब लड़की चिल्लाती रोती तो चाॅकलेट खिला चुप कर देती थी। इसी घटना की सूचना जब लड़की के परिजनों व ग्रामीणों को मिली तो आक्रोशित होकर कन्हैयाचक गाँव पहुंचे तो लड़के पक्ष से गरमजोशी जबाब मिला कि बेवजह शादी के विरोध करने वाले को जिंदगी गंवाने की मजबूर करा दूंगा, जो कि सीधे तौर पर जान से मारने की धमकी सुन लड़की के परिजनों और ग्रामीणों ने अपने गाँव वापस आकर बाद में अपने करीबी भरतखंड ओपी में आवेदन देकर न्याय भारत सरकार के कानूनी नियमों के अनुसार लड़की के शादी की उम्र कम से कम 18 वर्ष सुनिश्चित किया गया है, साथ ही साथ यह भी बताया गया है कि जो भी इस कानूनी नियमों का अनुपालन करेंगे उन्हें दोषी करार करते हुए कानूनन कार्रवाई होगी। फिलहाल पुलिस अपनी जांच प्रक्रिया में लगी हुई है और दोषी को अविलंब हिरासत में लेने की परिजनों को आश्वासन दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *